Today Click 152

Total Click 3112817

Date 24-06-17

मनोरंजन

देश

 

खेल

 

वीडियो

संपादकीय

योग को कर्म के कौशल से जोड़िए

एक समय हमारे देश, और देश ही क्यों, दुनिया भर में व्यक्ति का बल ही उसकी सर्वोच्चता के निर्धारण में निर्णायक हुआ करता था। पुराने युद्धों के सिलसिले में वीरों के जिस पराक्रम कां खास उल्लेख किया जाता है, तब भी बल आधारित श्रेष्ठता का ही परिचायक था लेकिन आगे चलकर अस्त्र-शस्त्रों की भूमिका आरम्भ हुई तो उनमें से एक…

विस्तार से देखें

योग का तमाशा

योग को तो हम भारतीय युगों से देखते आ रहे हैं, अब योग का तमाशा भी देख रहे हैं। वैसे ही जैसे गांधी जयंती को अहिंसा दिवस के रूप में, अक्षय तृतीया को सोना खरीदने के लिए या धनतेरस के पहले पुष्य नक्षत्र मनाने के तमाशे देख रहे हैं। ऐसा नहीं है कि इन दिवसों की राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय घोषणाओं से…

विस्तार से देखें

ट्रम्प क्यूबा और साम्राज्यवाद का पुनरागमन

अपने प्रचार के समय से ही राष्ट्रपति ट्रम्प कास्त्रो विरोधी रहे हैं। यह विडम्बना ही है कि अपने लोगों का विश्वास और वोट प्राप्त करने के लिए उन्होंने वही विचारधारा और तर्क अपनाए जिनको कास्त्रो ने अपने जीवन में यहां अमेरिका के संबंधों में अपनाया था। जिनका नाम इस प्रकार है: असामनता, अनुचितता, नस्लवाद, प्रणालीगत भ्रष्टाचार, व्यापक निर्धनता। इस रास्ते…

विस्तार से देखें

कर्ज एवं आत्महत्या से मुक्ति हेतु सामुदायिक कृषि

औद्योगिक विकसित देश जापान के लिए किसानों की उपज को उच्च मूल्य पर खरीदना आसान है क्योंकि वहां की जीडीपी में योगदान 2 प्रतिशत से भी कम है। प्रति व्यक्ति 1700 डॉलर जीडीपी वाले भारत के लिए जापान का कृषि उपज मूल्य मॉडल अपनाना संभव नहीं है। वर्तमान आर्थिक परिस्थितियों में डॉ. स्वामीनाथन किसान आयोग की सिफारिशें भी लागू करना…

विस्तार से देखें