Breaking News

Today Click 1574

Total Click 3530684

Date 20-01-18

गांव वालों ने बहुत समझाया लेकिन उसने पति को मारकर ही दम लिया

By Mantralayanews :08-09-2017 10:18


चारामा, कांकेर । चरित्र पर संदेह और रोज-रोज के कलह से परेशान झुमका बाई ने अपने पति रामकुमार कन्नोजे के सिर पर सब्बल मारकर हत्या कर दी। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ऑवरी निवासी रामकुमार कन्नौजे पिता लखनलाल कन्नौजे (50) अपनी पत्नी झुमका बाई के चरित्र पर संदेह करते हुए उसे प्रताड़ित तथा मारपीट करता था।

बार-बार मारपीट किए जाने और झगड़ों को देखते हुए स्थानीय ग्रामीण भी दोनों को समझाया करते थे। 6 सितंबर की रात्रि को रामकुमार ने अपनी पत्नी से फिर मारपीट की। जिसके बाद ग्रामीणों व परिवार के अन्य सदस्यों ने रामकुमार को समझाया।

ग्रामीणों की समझाइश के बाद रामकुमार और झुमका बाई अपने कमरे में सोने के लिए चले गए। कुछ देर बाद रात्रि 10 बजे महिला अपने कमरे से चिल्लाते हुए निकली और बताया कि मैंने अपने पति को सब्बल से मार दिया।

शोर सुनकर पड़ौसी और अन्य ग्रामीण भी रामकुमार के घर पहुंचे। इस दौरान रामकुमार के सिर से खून बह रहा था और रामकुमार की मौत हो गई थी। घटना की सूचना चारामा थाने में दिए जाने पर पुलिस ने आरोपी महिला झुमका बाई को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ धारा 302 के तहत जुर्म दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

Source:Agency