Breaking News

Today Click 1654

Total Click 3277150

Date 20-09-17

गौरी लंकेश मर्डर: हत्या के दिन तीन बार घर के बाहर नजर आए थे संदिग्ध

By Mantralayanews :13-09-2017 06:54


पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के मामले में जांच कर रही एसआईटी के हाथ एक ठोस सबूत लगा है। एसआईटी के मुताबिक 5 सितंबर, गौरी लंकेश की हत्या के दिन संदिग्ध तीन बार लंकेश के घर के बाहर नजर आए थे। यहां तक की उन्हें गोली मारने से 30-45 मिनट पहले भी एक संदिग्ध घर के बाहर घूमता नजर आ रहा है।  सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, संदिग्ध ने सफेद रंग की शर्ट पहन रखी थी। उसे गौरी की हत्या से कुछ देर पहले मोटरसाइकिल पर घूमता हुआ पाया गया है। उसकी उम्र तकरीबन 35 वर्ष के आसपास है बताई जा रही है। 

फुटेज के मुताबिक, संदिग्ध रोड की दाईं ओर से आया और गौरी के घर का एक चक्कर लगाकर चला जाता है। उनके घर से कोई 10 फीट की दूरी पर वह यू-टर्न लेकर चला जाता है। जांच टीम के मुताबिक संदिग्ध ने गोली मारने के लिए दूरी का अंदाजा लिया और वहां से निकल गया गौरतलब है कि पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या के बाद कर्नाटक पुलिस ने 25 अन्य कन्नड़ साहित्याकारों और विचारकों को सुरक्षा देने का फैसला किया है। कर्नाटक पुलिस के इंटेलिजेंस विभाग द्वारा चेतावनी जारी किए जाने के बाद यह फैसला लिया गया है। 

बता दें कि पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने यह निर्देश जारी किया था कि पुलिस उन सभी साहित्याकारों व विचारों की सुरक्षा का खास ध्यान रखे जो धार्मिक और क्षेत्रिय विषय पर अपना विश्लेषण देते हैं। 

क्लू देने वाले को मिलेंगे 10 लाख
पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या के मामले में कर्नाटक सरकार कोई ढिलाई नहीं बरतना चाहती है। राज्य के गृह मंत्री रामालिंगा रेड्डी ने गौरी लंकेश हत्याकांड में क्लू देने वाले को 10 लाख रुपये के इनाम का ऐलान किया है। 

घर के सामने अज्ञात बदमाशों ने मारी गोली
बता दें कि पत्रकार गौरी लंकेश की बेंगलुरु के राजाराजेश्वरी नगर स्थित उनके आवास पर अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। गौरतलब है कि गौरी लंकेश कन्नड़ अखबार पत्रिका की संपादक थीं। गौरी लंकेश को हिंदुत्ववादी राजनीति का कट्टर आलोचक माना जाता था। 

Source:Agency