Breaking News

Today Click 1919

Total Click 3727022

Date 16-07-18

दिल्ली में ऑड-ईवन की तैयारी, टू-व्हीलर्स को मिलेगी छूट

By Mantralayanews :09-11-2017 07:04


नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली में लगातार 48 घंटे प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है। ऐसे में दिल्ली सरकार ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू करने की तैयारी कर रही है। इस मामले पर फैसला आज हो सकता है। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बुधवार को ऑड-ईवन को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की थी। उन्होंने कहा कि सभी एजेंसियों को तैयारी पूरी करने के लिए कह दिया गया है।

परिवहन मंत्री के मुताबिक दिल्ली में अगर 48 घंटे तक प्रदूषण स्तर सीविर प्लस कैटेगिरी में रहता तो ऑड-ईवन स्कीम को लागू किया जाएगा और इन पर टू-व्हीलर्स को छूट मिलेगी। बुधवार को परिवहन मंत्री ने डीटीसी, ट्रांसपोर्ट औप डीएमआरसी के अधिकारियों के साथ ऑड-ईवन की तैयारियों पर मीटिंग की। मंत्री ने बताया कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट को मजबूत करने के लिए ज्यादा बसों की व्यवस्था करने को कहा गया है। बैठक में यह भी तय हुआ कि ऑड-ईवन लागू होता है तो दोपहिया वाहनों व सीएनजी चालित वाहनों को छूट मिलेगी। बैठक में दिल्ली परिवहन निगम, दिल्ली परिवहन विभाग, इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड, डिम्ट्स (दिल्ली मल्टी मॉडल इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्ट सिस्टम) समेत अन्य विभाग शामिल हुए।

डीटीसी को ऑड-ईवन को लेकर 500 बसें, दिल्ली मेट्रो को 300 बसें, डिम्ट्स को 100 बसें, परिवहन विभाग को 400 एक्स सर्विसमैन के अलावा सिविल डिफेंस के 5000 वॉलंटियर्स को तैयार रखने के लिए कहा है। आईजीएल को सीएनजी चालित वाहनों के लिए 1.5 लाख स्टीकर तैयार करने का निर्देश दिया गया है।

डीटीसी और मेट्रो से कहा गया है कि वह शॉर्ट टर्म के लिए बसों की व्यवस्था के लिए टेंडर जारी करें, ताकि जरूरत पड़ने पर ऑड-ईवन को लागू किया जा सके। इसके साथ ही सरकार ने आईजीएल को करीब डेढ़ लाख स्टिकर की व्यवस्था करने को कहा है। ऑड-ईवन के समय सीएनजी व्हीकल को छूट मिलती है और ऐसे वीकल के लिए स्टिकर जारी किए जाते हैं। जानकारी के मुताबिक, सरकार इस बार छूट का दायरा घटाने की तैयारी में है। बीते वर्ष 2016 में दो बार हुए - 1 जनवरी से 15 जनवरी तक और 15 अप्रैल से 30 अप्रैल तक में छूट की श्रेणी अधिक थी, जो इस बार कम की जा सकती है।

सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (CPCB) के तहत एयर क्वालिटी इंडेक्स में पॉल्यूशन 500 के पैमाने पर 487 का स्कोर रहा है। यह स्कोर स्वस्थ लोगों को भी प्रभावित कर सकता है और मौजूदा बीमारियों से जूझ रहे लोगों को गंभीरता से प्रभावित कर सकता है। 
 

Source:Agency