Breaking News

Today Click 1995

Total Click 3591829

Date 22-02-18

GST की मार से फीकी हुई सोने की चमक, 24% गिरी मांग

By Mantralayanews :09-11-2017 07:49


भारत में सोने की मांग में काफी बड़ी गिरावट आई है. 2017 की तीसरी तिमाही में सोने की मांग 24 फीसदी गिरकर 145.9 टन रही है. वर्ल्ड  गोल्ड काउंसिल ने अपनी एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी है. परिषद के मुताबिक पिछले साल जुलाई से स‍ितंबर के बीच सोने की मांग 193 टन रही. परिषद ने इसके लिए जीएसटी को जिम्मेदार ठहराया है.

मनी लॉन्ड्रि‍ंग कानून भी जिम्मेदार

परिषद ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सोने की मांग घटने की सबसे अहम वजह जीएसटी का लागू होना है. इसके अलावा मनी लॉन्ड्रिंग कानून को अमल में लाए जाने से भी खरीदारों ने सोने से दूरी बनाई.

31 फीसदी कम मूल्य के आधार पर कम रही मांग

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक समीक्षावध‍ि में मूल्य के आधार पर सोने के आभूषणों की मांग 31% घटकर 30,340 करोड़ रुपये रही है. यह पिछले साल 2016 में इसी दौरान 43,880 करोड़ रुपये थी.

निवेश में भी आई  कमी

सितंबर तिमाही के दौरान सोने के निवेश में भी कमी आई है. इस दौरान कुल निवेश की मांग 23 फीसदी घटकर 312 टन रही, जो पिछले साल इसी दौरान 40.1 टन थी। मूल्य के आधार पर देखें तो इसमें 29% की गिरावट देखी गई और यह 8,200 करोड़ रुपये रहा. पिछले साल इसी अवध‍ि में यह 11,520 करोड़ रुपये था.     

सिक्कों की मांग भी घटी

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के भारत में प्रबंधक निदेशक सोमसुंदरम पी.आर. ने कहा कि सोने की मांग में आई  इस गिरावट  के लिए जीएसटी जिम्मेदार है. उनके मुताबिक इसके लिए आभूषण के खुदरा लेनदेन को लेकर मनी लॉन्ड्रिंग कानून को लागू किए जाने से भी मांग पर असर पड़ा है. उन्होंने बताया कि पहली तीन तिमाहियों में आभूषणों की मांग बढ़ी, लेकिन उसके बाद इसमें गिरावट आ गई. सोने की छड़ और सिक्कों की मांग की बात करें, तो वह भी 23 फीसदी घटकर 31 टन रह गई है.
 

Source:Agency