Breaking News

Today Click 428

Total Click 3405292

Date 20-11-17

एक-दूसरे को नक्सली समझबैठे,एंबुलेंस ड्राइवर भागा तो BSF ने चला दी गोली

By Mantralayanews :11-11-2017 08:23


नारायणपुर । जिला मुख्यालय से 17 किमी दूर कांकेर जिले के रावघाट थाना क्षेत्र के आतुरबेड़ा गई जिले की संजीवनी एंबुलेंस पर बीएसएफ ने बुधवार की रात गोली चला दी। इस घटना में एंबुलेंस के सामने का टायर फट गया है। वहीं वाहन के बॉडी और चेचिस में सुराग हो गया है।

आधी रात को जंगल से एंबुलेंस में चली गोली दो बड़े आक्सीजन सिलेंडर से करीब एक मीटर दूर लगी नहीं तो वाहन में बैठे छह लोगों की जान विस्फोट से जा सकती थी। नईदुनिया से चर्चा में संजीवनी एंबुलेंस के पायलेट टिकेश साहू और ईएमटी धनराज पटेल ने बताया कि बुधवार की रात कॉल सेंटर से आपातकालीन सेवा से निर्देश मिलने के बाद मरीज को जिला अस्पताल लाने के लिए आतुरबेड़ा गए थे।

वहां से 65 वर्षीय मरीज भोगाराम नुरेटी के साथ उनके नाती रामूराम नुरेटी,रामलाल नुरेटी और मोतीलाल गावड़े को लेकर वापस आ रहे थे। मरीज से साथ आए अटेंडरों में जिला पुलिस बल का जवान रामूराम नुरेटी भी शामिल था।

इसी दौरान जंगल से अचानक निकले बीएसएफ के जवानों ने पायलेट के आंखों में लाइट मारकर वाहन रोकने कहा। जवानों को एंबुलेस कर्मी नक्सली समझकर वाहन आगे बढ़ा रहे थे तभी जवानों ने एंबुलेंस में गोलियां चला सामने का टायर पंचर कर दिया।

इसके बाद जवानों ने एंबुलेंस की घेराबंदी करते पायलेट को बंदूक की नोक पर वाहन से नीचे उतार कर पूछताछ किया। इसके बाद मरीज से साथ एबुलेंस में बैठे सभी लोगों को नीचे उतार कर वाहन की तलाशी ली। एक घंटे के बाद एंबुलेंस और मरीज को जाने दिया गया।

सामने के टायर को बदलने के बाद एंबुलेंस रात बारह बजे अस्पताल पहुंची। दूसरे दिन घटना की जानकारी संजीवनी कर्मियों ने अपने प्रबंधन को दी जिसके बाद कलेक्टर और एसपी को पत्र लिखकर प्रबंधन ने इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति नहीं होने की बात कही।
 

Source:Agency