Breaking News

Today Click 1851

Total Click 3598570

Date 25-02-18

हाईकोर्ट ने भोपाल गैंग रेप मामले में सरकार को लगाई फटकार

By Mantralayanews :13-11-2017 08:08


जबलपुर। प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस हेमंत गुप्ता और जस्टिस विजय शुक्ला की प्रिंसपल बैंच ने भोपाल गैंग रेप विक्टिम मामले में हर स्तर पर हुई क्रिमिनल लापरवाही को लेकर सरकार को फटकार लगाई है। चीफ जस्टिस हेमंत गुप्ता की प्रिंसपल बैंच इस गैंग रेप मामले का स्वत: संज्ञान लेते हुए जनहित याचिका के रुप में आज सोमवार सुबह सुनवाई कर रही थी।

जस्टिस हेमंत गुप्ता ने बड़े ही तल्ख लहजे में टिप्पणीं की कि इस मामले में हर स्तर पर जो लापरवाही हुई है वह माफी के योग्य नहीं है। चीफ जस्टिस ने कहा कि पीड़िता जिस पुलिस थाने पर पहली बार पहुंची थी उसी थाने को मामले की जीरो पर कायमी कर लेना चाहिए थी। रेप विक्टिम की मेडिकल रिपोर्ट में डॉक्टरों की कथित लापरवाही पर भी कोर्ट ने नाराजगी जताई। कोर्ट ने पुलिस अफसरों और डॉक्टरों पर की गई कार्रवाई को लेकर सरकार को दो हफ्ते में एक्शन टेकन रिपोर्ट देने के ऑर्डर दिए। कोर्ट ने इस पूरे मामले को ट्रेजिडी ऑफ एरर्स निरुपित करते हुए कहा कि किसी भी दोषी अफसर को बख्शा नहीं जाए।

प्रदेश सरकार की तरफ से महाधिवक्ता पुरुषेंद्र कौरव ने कोर्ट को बताया कि सरकार इस मामले को लेकर बहुत गंभीर है। सरकार ने तुरंत कार्रवाई करते हुए प्रथम दृष्टिया लापरवाह पाए गए तीन टाउन इंस्पेक्टर, दो सब इंसपेक्टर, और दो डॉक्टरों को सस्पेंड किया है। इस मामले में बाकी की जो भी कार्रवाई होती है उसकी रिपोर्ट कोर्ट को दो हफ्ते में सरकार सौंपेगी।

महाधिवक्ता ने कोर्ट को यह भी बताया कि इस मामले की चार्जशीट 15 दिनों के अंदर ही अदालत मे दायर कर दी जाएगी। इस पर कोर्ट ने कहा कि इस मामले की सुनवाई किसी सीनियर जज से तय समय सीमा में कराई जाएगी। कोर्ट ने अगली सुनवाई 27 नवंबर को फिक्स की है।
 

Source:Agency