Breaking News

Today Click 1786

Total Click 3530896

Date 20-01-18

कोलकाता टेस्ट में प्लेइंग इलेवन को लेकर उलझन में टीम इंडिया

By Mantralayanews :14-11-2017 06:27


कोलकाता। भारतीय सिलेक्टर्स ने तो श्रीलंका के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैचों के लिए हार्दिक पांड्‍या को आराम दिया है। सिलेक्टर्स के इस फैसले से टीम इंडिया पहले टेस्ट के पूर्व पसोपेश में नजर आ रही है। ईडन गार्डंस की घास से भरी पिच को देखते हुए प्लेइंग इलेवन तय करना मेजबान टीम प्रबंधन के लिए चुनौतीपूर्ण कार्य रहेगा।

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज गुरुवार से शुरू होगी। इसकी पिच हरी घास से भरी नजर आ रही है। 2016 में पुन: तैयार किए जाने के बाद से इस पिच पर तेज गेंदबाज सफल होते रहे हैं। पिछले वर्ष भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए टेस्ट मैच में 40 में से 26 विकेट तेज गेंदबाजों ने झटके थे। भुवी ने इस मैच में शानदार प्रदर्शन किया था। भुवी ने इसके बाद इसी वर्ष ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में भी टीम इंडिया को जीत दिलाई थी। नए सिरे से पिच तैयार करने के बाद से यहां स्पिनरों की तुलना में तेज गेंदबाजों का दबदबा रहा है।

ईडन की पिच को देखते हुए भारत तीन स्पिनरों के साथ नहीं उतरेगा यह तो तय है। अब चूंकि हार्दिक पांड्‍या टीम में नहीं है, इसलिए टीम नए कॉम्बिनेशन के साथ मैदान में उतरेगी। न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत छह विशेषज्ञ बल्लेबाजों के साथ मैदान में उतरा था। रोहित ने छठे क्रम पर बल्लेबाजी कर 82 रन बनाते हुए टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। पांड्‍या की मौजूदगी के चलते भारत एक गेंदबाज कम रखते हुए भी मैदान में उतरता था, लेकिन अब स्थिति वैसी नहीं रहेगी।

भारत 2015 बेंगलुरू टेस्ट के बाद से अपने घर में तीन गेंदबाजों के साथ मैदान में उतरा नहीं है। ऑलराउंडर हार्दिक की अनुपस्थिति के कारण भारत इस मैच में तीन तेज गेंदबाज और दो स्पिनरों या फिर तीन तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ मैदान में उतर सकता है। वैसे भारत के एक स्पिनर के साथ खेलने की संभावना कम है क्योंकि उसके पास दुनिया के दूसरे और चौथे क्रम के गेंदबाज (रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन) मौजूद है। वैसे अगले वर्ष भारत को विदेशी धरती पर कई सीरीज खेलनी है और वहां वह दो स्पिनरों के साथ शायद ही उतरेगा। हो सकता है कि कोलकाता में भारत इसके पूर्वाभ्यास के रूप में एक ही स्पिनर के साथ मैदान में उतरे।
 

Source:Agency