Breaking News

Today Click 2386

Total Click 3448649

Date 11-12-17

पुरई का तैराक पहुंचा रियो ओलिंपिक रिकॉर्ड तोड़ने के करीब

By Mantralayanews :29-11-2017 06:50


दुर्ग। आखिर गुदड़ी के लाल ने अपनी प्रतिभा दिखा ही दी। दुर्ग जिले के पुरई गांव के 19 वर्षीय तैराक रेमन यादव ने स्वीमिंग के फ्री स्टाइल 50 मीटर में रियो ओलिंपिक रिकॉर्ड करीब से छू लिया। इस वर्ग में इतनी ही दूरी का रिकॉर्ड अमेरिका के एंथोनी एर्विन का है और उनका समय 21.40 सेकंड दर्ज है। वहीं रेमन यादव ने 22.945 सेकंड लिया।

भारतीय खेल प्राधिकरण की टीम द्वारा मंगलवार को पुरई के तैराक बच्चों के ट्रायल के दौरान यह प्रतिभा उभरकर सामने आई। खेल प्राधिकरण की टीम इस गांव में सोमवार से 40 तैराक बच्चों की प्रतिभा परखने आई है और स्पोर्ट्स सेंटर के लिए चयन करेगी। इस सेंटर में तैराकी का विशेष प्रशिक्षण चयनित बच्चों को दिया जाएगा।

अभावों और रूखा-सूखा खाकर गुजारा कर रहे परिवार से ताल्लुक रखने वाले रेमन यादव के अलावा यहां करीब दर्जनभर बच्चे ऐसे है जो मध्यप्रदेश सहित दीगर राज्यों में आयोजित प्रतियोगिताओं के रिकॉर्ड तोड़ने की स्थिति में है। इसलिए टीम बच्चों की टाइमिंग रिकॉर्ड की है और उसका मिलान कर रही है। रेमन शासकीय उच्चतर माध्यमिक पुरई स्कूल में बारहवीं का छात्र है।

जुगाड़ और गंदे पानी से निकले यह प्रतिभाएं

पुरई गांव में 7 से 19 साल तक की 30 बालक और बालिकाओं ने तैराकी में नेशनल स्तर पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। यहां के 20 बच्चे स्कूल नेशनल और 10 बच्चे कॉलेज नेशनल की टीम से खेल चुके हैं। साई की टीम को तैराकी का ट्रायल लेने के लिए स्वीमिंग पुल नहीं मिला। इसकी वजह से गंदे तालाब में तैराक बच्चों का ट्रायल लेना पड़ा। यहां जुगाड़ से संकेतक बनाए गए। 50 मीटर की दूरी नापकर टीम ने तालाब के भीतर तीन लोग बांस लेकर खड़े रहे। बांस पर प्लास्टिक बाल बांधे गए थे, जो बच्चों के लिए संकेतक के रूप में काम आए।

इसकी वजह से बच्चों को ट्रायल के दौरान आदर्श स्थिति नहीं बन पाई। भिलाई क्लब स्थित स्वीमिंग पुल में इन बच्चों का ट्रायल लिया जाता तो रेमन यादव रियो ओलिंपिक की रिकॉर्ड की बराबरी कर लेता या तोड़ देता। भिलाई क्लब स्वीमिंग पुल देने के लिए टीम के सदस्य पूरे दिन मशक्कत करते रहे लेकिन राज्य तैराक एसोसिएशन के जिम्मेदार पदाधिकारी न पुरई पहुंचे और न ही टीम के सदस्य का फोन रिसीव किया। इस तरह गांव के इन बच्चों के हुनर को आगे लाने के लिए साई के द्वारा किए जा रहे प्रयास को दबाने की कोशिश भी की गई।

स्वीमिंग पुल में होता आदर्श प्रदर्शन

गंदे तालाब और जुगाड़ से स्वीमिंग ट्रायल पुरई के तैराक बच्चों का लिया गया है। भिलाई क्लब स्थित स्वीमिंग पुल में बच्चों का ट्रायल आज लेना था। तैराक एसोसिएशन के सचिव द्वारा सहयोग नहीं किया गया। वहां बच्चों की टाइमिंग और बेहतर होता और रेमन यादव अपना प्रदर्शन और बेहतर कर सकता था। रियो ओलिंपिक रिकॉर्ड के करीब रेमन की टाइमिंग आई है। -पंथ गीता, डायरेक्टर -साई रायपुर
 

Source:Agency