Breaking News

Today Click 204

Total Click 3446467

Date 11-12-17

सघन मिशन इन्द्रधनुष का तीसरा चरण 7 से 18 दिसम्बर तक

By Mantralayanews :04-12-2017 13:38


सघन मिशन इन्द्रधनुष का तीसरा चरण प्रदेश के 14 चिन्हित जिलों अलीराजपुर, छतरपुर, इंदौर (शहर), झाबुआ, पन्ना, रायसेन, रीवा, सागर, श्योपुर, सीधी, सिंगरौली, टीकमगढ़ और विदिशा में 7 दिसम्बर से प्रारंभ होकर 18 दिसम्बर 2017 तक चलेगा। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्रीमती गौरी सिंह ने आज तीसरे चरण की तैयारियों और पिछले दो चरणों की प्रगति की समीक्षा की।

सघन मिशन इन्द्रधनुष मिशन अभियान का लक्ष्य टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों का और गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण करना है। गत अक्टूबर और नवम्बर में हुए पहले और दूसरे चरण में प्रदेश में अभियान के दौरान 25 हजार 52 सत्र हुए जिनमें एक लाख 56 हजार 630 बच्चों और 35 हजार 745 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण हुआ। इनमें से 15 हजार 855 बच्चों को पहली बार टीका लगाया गया।

बैठक में बताया गया कि 86 प्रतिशत टीकाकरण के साथ मध्यप्रदेश सघन मिशन इन्द्रधनुष देश के 3 अग्रणी राज्यों में शामिल है। प्रमुख सचिव ने दिसम्बर और जनवरी में होने वाले चरणों में जिला एवं ब्लाक स्तरीय कंट्रोल रूम गतिविधियों को सशक्त करते हुए शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि टीम के सदस्य एक दिन पूर्व ही अपने-अपने क्षेत्र में पहुंच जाएं। संबंधित घरों को दूरभाष एवं अन्य माध्यमों से अगले दिन होने वाले प्रात: 9 से 4 बजे तक टीकाकरण की जानकारी दे। सुनिश्चित करें कि एक भी घर या बच्चा टीके से वंचित न रहे। श्रीमती सिंह ने कम उपलब्धि वाले जिलों पन्ना, शहडोल, श्योपुर, सीधी और सिंगरौली को अगले चरणों में बेहतर प्रदर्शन के लिए कहा। 5 दिसम्बर को वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से इन जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और जिला टीकाकरण अधिकारी से चर्चा की जाएगी।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जे.पी. नड्डा करेगे अभियान की समीक्षा

केन्दीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जे.पी.नड्डा 6 दिसम्बर को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये देश के 118 जिलों में संचालित सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान की समीक्षा करेंगे। इसमें प्रदेश के 14 जिलों में संचालित अभियान के लिए जिलों द्वारा किए गए प्रति व्यक्ति सर्वे ड्यूलिस्ट, अन्तर विभागीय समन्वय और एनसीसी एवं एनएसएस की सहभागिता पर विशेष चर्चा की जाएगी। अभियान में स्वास्थ्य विभाग द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और एएनएम की सहायता से घर-घर जाकर 5 वर्ष तक के बच्चों और गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण सुनिश्चित किया जा रहा है। कार्यक्रम की मॉनिटरिंग मोबाइल एप से जिलेवार की जा रही है।

Source:Agency