Breaking News

Today Click 39

Total Click 3611897

Date 20-04-18

छग में सवा करोड़ लोगों के योगाभ्यास का विश्व कीर्तिमान बनाने की तैयारी

By Mantralayanews :10-03-2018 07:31


अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में छत्तीसगढ़ में इस वर्ष एक करोड़ 25 लाख लोगों को एक साथ योगाभ्यास करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिए 15 जून से एक सप्ताह का प्रदेश व्यापी अभियान चलाया जाएगा, जिसका समापन 21 जून को चौथे विश्व योग दिवस के अवसर पर होगा। समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को आमंत्रित किया गया है। राज्य में तीसरे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर पिछले वर्ष 55 लाख 87 हजार लोगों के एक साथ योगाभ्यास करने का कीर्तिमान बनाया गया था, जिसे गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज किया गया है।
    यह जानकारी आज शाम यहां  छत्तीसगढ़ योग आयोग की साधारण सभा की दूसरी बैठक में आयोग के अध्यक्ष श्री संजय कुमार अग्रवाल ने दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को पत्र लिखकर योग दिवस में आमंत्रित किया है। आयोग की ओर से केन्द्रीय आयुष और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री श्रीपद यस्सो नाईक को पत्र लिखा गया है। श्री अग्रवाल ने बैठक में बताया कि इस वर्ष के योग दिवस में छत्तीसगढ़ के सवा करोड़ नागरिकों के योगाभ्यास का विश्व कीर्तिमान बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड, लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड और गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के अधिकारियों को भी योग आयोग द्वारा आमंत्रित किया जा रहा है।
    श्री अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है, जहां प्रदेशवासियों में स्वास्थ्य के प्रति अधिक से अधिक जागरूकता लाने के लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने 25 अप्रैल 2017 को समाज कल्याण विभाग के अंतर्गत योग आयोग का गठन किया है। संयुक्त राष्ट्रसंघ की महासभा में प्रधानमंत्री श्री मोदी ने 27 सितम्बर 2014 में दिए गए अपने भाषण में पूरी दुनिया में हर साल योग दिवस मनाने के लिए एक दिन निश्चित करने का आव्हान किया था। उनके आव्हान पर प्रति वर्ष यह दिवस मनाया जा रहा है।
    श्री संजय अग्रवाल ने आज की बैठक में बताया कि छत्तीसगढ़ को स्वच्छ, स्वस्थ और व्यसन मुक्त राज्य के रूप में विकसित करने का उद्देश्य लेकर योग आयोग ने प्रदेश भर में अपनी गतिविधियां शुरू कर दी है। अपनी स्थापना के एक वर्ष से भी कम समय में अर्थात लगभग दस महीने में छत्तीसगढ़ में योग के प्रति जन-जागरण की दिशा में पिछले वर्ष 2017 में अक्टूबर से दिसम्बर के बीच सभी पांच संभागीय मुख्यालयों में संभाग स्तर पर आवासीय योग प्रशिक्षण शिविर और सभी 146 विकासखण्डों के लिए 17 स्थानों पर गैर आवासीय प्रशिक्षण शिविर आयोजित कर निकट भविष्य में होने वाले योग शिविरों के लिए 19 हजार 237 प्रशिक्षक तैयार किए जा चुके हैं। इनमें से 18 हजार 215 लोगों को सह-प्रशिक्षक के रूप में प्रशिक्षित किया गया है। आयोग ने प्रदेश की लगभग ग्यारह हजार ग्राम पंचायतों में भी ग्रामीणों के लिए योग शिविर लगाने की कार्य योजना बनाई है। प्रदेश भर में एक लाख योग प्रशिक्षक तैयार करने का लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष जनवरी फरवरी में आयोजित राजिम कुंभ कल्प, मैनपाट महोत्सव, बिलासपुर के महाशिवरात्रि महोत्सव और कोरिया जिले के अमृतधारा महोत्सव में 19 हजार 350 ऐसे लोगों का पंजीयन आयोग द्वारा किया गया, जो योग सीखने और सिखाने के इच्छुक हैं। योग आयोग के अध्यक्ष ने बताया कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा घोषित संचार क्रांति योजना (स्काय) के तहत राज्य में 50 लाख से ज्यादा स्मार्ट फोन बांटने का लक्ष्य है। इन स्मार्ट फोन धारकों के लिए आयोग द्वारा योग अभ्यास से संबंधित मोबाइल एप्प भी तैयार करवाया जाएगा।
    श्री संजय अग्रवाल ने कहा कि स्वास्थ्य की दृष्टि से योग के महत्व को जन-जन तक और घर-घर तक पहुंचाने के लिए प्रयास किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए योग प्रशिक्षक तैयार करने के बाद अब प्रदेश के सभी 168 शहरों के प्रत्येक वार्ड में कम से कम दो योग प्रशिक्षक बनाने के लिए भी आयोग ने संभागीय मुख्यालयों में शिविर लगाने की तैयारी शुरू कर दी है। इन शिविरों में शहरी क्षेत्रों में योग कक्षाओं के लिए पांच हजार से ज्यादा प्रशिक्षक तैयार किए जाएंगे। श्री अग्रवाल ने बताया कि स्कूली बच्चों और कॉलेजों के युवाओं को भी योग से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। सभी स्कूलों में योग नियमित कक्षाएं लगाने का भी प्रयास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मंशा के अनुरूप आयोग ने युवाओं के लिए योग (योग फॉर यूथ) अभियान शुरू करने का भी निर्णय लिया है। इस वर्ष आदिवासी बहुल बस्तर और सरगुजा संभागों में आदिवासी योग महोत्सव के आयोजन के लिए भी तैयारी की जा रही है।
    आज की बैठक में समाज कल्याण विभाग के तत्कालीन सचिव (वर्तमान में जल संसाधन सचिव) श्री सोनमणि बोरा विशेष रूप से उपस्थित थे। आयोग के अध्यक्ष श्री अग्रवाल ने उनका स्वागत करते हुए कहा कि समाज कल्याण विभाग के सचिव के रूप में योग आयोग के गठन और योग शिविरों तथा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन में श्री सोनमणि बोरा ने सराहनीय योगदान दिया। श्री बोरा ने भी बैठक को सम्बोधित किया। बैठक में योग आयोग के सदस्य सर्वश्री महाप्राण पुरोहित, रविकुमार श्रीवास, अजय सिंह बैस सहित ब्रम्ह कुमारी मंजू दीदी, समाज कल्याण विभाग के अतिरिक्त सचिव श्री बी.एल. बंजारे, आयोग के सचिव श्री एम.एल. पाण्डेय तथा प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा, स्कूल शिक्षा, आदिम जाति विकास विभाग, स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग, केन्द्र सरकार के सार्वजनिक उपक्रम - राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम, एसईसीएल तथा रेल्वे के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Source:Agency