Breaking News

Today Click 1258

Total Click 3892910

Date 20-09-18

पोषण आहार प्लांट के टेंडर जारी, छह माह में तैयार होंगे

By Mantralayanews :10-03-2018 07:42


भोपाल। राज्य सरकार ने पूरक पोषण आहार की नई व्यवस्था पर काम शुरू कर दिया है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने सात जिलों में पोषण आहार प्लांट निर्माण के लिए टेंडर कर दिए हैं।

वहीं मशीन खरीदने का टेंडर अगले हफ्ते जारी होने की संभावना है। विभाग ने छह माह में निर्माण कार्य और मशीनों की स्थापना का काम पूरा करने का लक्ष्य तय किया है। पूरक पोषण आहार महिला स्व-सहायता समूह की मदद से मप्र राज्य आजीविका मिशन तैयार कराएगा।

समूहों से पोषण आहार तैयार कराने के लिए रीवा, सागर, होशंगाबाद, देवास, शिवपुरी सहित सात जिलों में प्लांट बनाए जा रहे हैं। होशंगाबाद में कम क्षमता का प्लांट लगाया जाएगा।

इसलिए साढ़े चार करोड़ रुपए की लागत से भवन तैयार किया जा रहा है। जबकि शेष जिलों में साढ़े सात करोड़ रुपए की लागत से भवन बनाए जाएंगे। सभी जिलों में इन भवनों के लिए भूमि मिल गई है। विभाग के अफसरों का दावा है कि छह माह में पोषण आहार का उत्पादन शुरू कर देंगे।

पहले प्लांट बनेंगे बाद में गोदाम

विभाग प्लांट का काम पहले करेगा। इसके बाद गोदाम तैयार किए जाएंगे। अधिकारियों के मुताबिक प्लांट के निर्माण के दौरान मशीनों के प्लेटफार्म पहले तैयार कर लिए जाएंगे। जब तक भवन बनकर तैयार होगा, मशीनें भी चालू स्थिति में आ जाएंगी। इसलिए पोषण आहार तैयार करने में देरी नहीं होगी।

30 जून तक रजिस्टर्ड होंगे फेडरेशन

पोषण आहार का काम फेडरेशन करेंगे। जिनमें महिला स्व-सहायता समूहों को प्रतिनिधित्व दिया जाएगा। आजीविका मिशन हर जिले में अलग फेडरेशन रजिस्टर्ड कराने की प्रक्रिया में जुटा है। 30 जून तक सभी फेडरेशनों को सहकारी संस्था के रूप में रजिस्टर्ड कराकर पोषण आहार का काम कराया जाएगा।

इनका कहना है

सात जिलों में प्लांट लगाने के लिए भवन निर्माण का टेंडर जारी कर दिया है। हमारी कोशिश है कि छह माह में पोषण आहार तैयार होने लगे। 

एमएल बेलवाल, संचालक, मप राज्य आजीविका मिशन
 

Source:Agency