Breaking News

Today Click 1018

Total Click 3738662

Date 23-07-18

खरमास में नहीं बजेंगी शहनाई, शुभकार्य भी वर्जित

By Mantralayanews :13-03-2018 07:32


भोपाल। मार्च का अंतिम विवाह मुहूर्त सोमवार को निकला गया अब 37 दिनों तक कोई शुभ विवाह मुहूर्त नहीं है। ज्योतिषमठ संस्थान के ज्योतिषाचार्य पं. विनोद गौतम के मुताबिक 12 मार्च तक विवाह के शुभ मुहूर्त थे, अब 37 दिन के ब्रेक के बाद 18 अप्रैल से एक बार फिर शुभ मुहूर्त में शहनाइयां बजना शुरू होंगी। उन्होंने बाताया कि 15, 16, व 17 अप्रैल को भी विवाह मुहूर्त हैं, लेकिन ये मुहूर्त बहुत शुभ नहीं हैं।

14 अप्रैल को पंचक तिथि रहेगी, 15 अप्रैल को श्राद्ध अमावस्या, 16 अप्रैल को सोमवती अमावस्या व 17 अप्रैल को प्रतिपदा तिथि रहेगी, साथ ही संक्रांति मेष का सूर्य कमजोर रहेगा। इसलिए 18 अप्रैल को अक्षय त्रितिया से ही शुभ विवाह मुहूर्त रहेंगे। पंडितों के मुताबिक वर का सूर्य-चंद्र एवं वधु को बृहस्पति-चंद्र शुभ देखकर शादियों की तारीख निकाली जाती है। मेष, वृषभ, मिथुन, वृश्चिक, मकर, कुंभ के सूर्य में शादियां की जाती हैं। सूर्य, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, धनु, मीन में शादियां बंद रहती हैं। ऐसे में 15 मार्च से 14 अप्रैल तक सभी तरह के मांगलिक कार्य वर्जित रहेंगे, जबकि शादियों पर लगी रोक 17 अप्रैल तक जारी रहेगी। पं. दुबे ने बताया कि खरमास में विवाह के साथ मांगलिक कार्य वर्जित होता है। 18 अप्रैल से अबूझ मुहूर्त व अक्षय तृतीया से विवाह मुहूर्त शुरू होंगे। इसके बाद पूरे साल में 41 दिन शहनाइंया गूंजेंगी

अगले माह से यह होंगे विवाह मुहूर्त

अप्रैल - 18, 19,20 ,24 ,25 ,26 ,27 ,28 ,29 ,30 (18 अप्रैल को अबूझ मुहूर्त व अक्षय तृतीया)

मई - 1, 2, 3, 4, 5, 6, 11, 12, 13

जून - 14, 18, 20, 21, 23, 25, 27, 28, 29, 30

जुलाई - 4, 5, 6, 9, 10, 11, 15, 16

दिसंबर - 8, 10, 11, 15
 

Source:Agency