Breaking News

Today Click 407

Total Click 3599083

Date 26-02-18

Ind vs SA :पिंक डे पर क्या टीम इंडिया तोड़ पाएगी द. अफ्रीका का रिकॉर्ड

By Mantralayanews :10-02-2018 07:25


नई दिल्ली: भारत के खिलाफ आज चौथे वनडे से पहले जोहानिसबर्ग में उत्सव सरीखा माहौल है. चप्पा-चप्पा मानो गुलाबी हो गया है. जिधर भी निगाह डालो, क्रिकेट प्रेमी गुलाबी कपड़ों में नजर आ रहे हैं, तो इनके बीच चर्चा भी जोरों पर चल रही है कि पिंक-डे के मौके पर दक्षिण अफ्रीकी टीम की क्या जीतने की परंपरा बरकार रह पाएगी. आपको बता दें कि पिंक डे दक्षिण अफ्रीका में ब्रेस्ट कैंसर के प्रति जागरुकता को लेकर मनाया जाता है. इसी दिन दक्षिण अफ्रीका की टीम गुलाबी जर्सी पहनती है.  ​

न्यूवांडर्स की पिच पारंपरिक रूप से बैटिंग पिच रही है. भारतीय समय के मुताबिक मुकाबला 4:30 बजे शुरू होगा. मेजबान क्रिकेटप्रेमियों के बीच अपनी टीम की चर्चा और काफी हद तक जीत की उम्मीदों के पीछे वजह यह है कि पिंक-डे पर पिछले सांच साल के भीतर खेले गए पांच मैचों में दक्षिण अफ्रीका एक भी मुकाबला नहीं हारा.  लेकिन यह भी सच है कि क्रिकेट इतिहास के बूते नहीं चलती. आज की दक्षिण अफ्रीकी टीम चोटों और बल्लेबाजों की खराब फॉर्म से जूझ रही है. भारतीय स्पिनरों युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव का जादू दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों को समझ में नहीं आ रहा है. इन दोनों ने पिछले 3 मैचों में 21 विकेट बटोर मेजबान खेमे में खलबली सी मचा दी है. आज भी दक्षिण अफ्रीकी युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की गुगली गेंदों को समझ पाएंगे, इसके आसार बहुत कम ही हैं.  ​

मेजबानों के लिए राहत की बात यह है कि आज के मुकाबले में आतिशी बल्लेबाज एबी डि विलियर्स की सेवाएं  दक्षिण अफ्रीका को मिल जाएंगी, लेकिन उनका अकेले कप्तान फैफ डु प्लेलिस और क्विंटन डि कॉक की भरपाई करना मुश्किल नजर आता है. सवाल यह भी है कि काफी दिन बाद बिना मैच अभ्यास के सीधे मैच में उतर रहे एबी के बल्ले की फॉर्म पहले जैसी ही होगी. वहीं भारत को सीरीज पर कब्जा जमाने के लिए सिर्फ जोहानिसबर्ग में जीत का झंडा गाड़ने की जरुरत है. और विराट कोहली के वीर जिस तरह से आग उगल रहे हैं, उस देखते हुए तो यही लग रहा है कि दक्षिण अफ्रीका की विजयी परंपरा का अंत होना आज करीब-करीब तय है. तीन मैचों में दो शतक जड़कर कप्तान विराट कोहली मेजबानों के लिए मानो किसी दहकते आग के गोल में तब्दील हो चुके हैं, जो अकेले बूते उनसे मैच छीन सकता है. यह सही है कि भारत के मिड्ल ऑर्डर अभी नहीं चला है, लेकिन कौन जानता है कि इसकी शुरुआत आज जोहानिसबर्ग से ही हो जाए. जहां दक्षिण अफ्रीकी टीम में तीन बदलाव हो सकते हैं, तो भारत अपनी पिछले तीन मैचों की विजयी इलेवन से बमुश्किल ही कोई छेड़छाड़ करेगा.

Source:Agency