Breaking News

Today Click 116

Total Click 3611974

Date 20-04-18

कांकेर के रिहायशी इलाके में दिखा तेंदुआ, लोगों में दहशत

By Mantralayanews :12-04-2018 07:49


कांकेर। खमडोड़गी में आदमखोर तेंदुए का दहशत उसके पकड़े जाने के साथ समाप्त हो गया, लेकिन अब भी शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में तेंदुए देखे जा रहे हैं। शहर के राजापारा वार्ड में भी पिछले कुछ दिनों से तेंदुए दिखाई दे रहा है।

पहाड़ी के अंदरूनी क्षेत्र से बाहर निकलकर सीढ़ियों तक और बस्ती में तेंदुए की पहुंचने की संभावनाओं को देखते हुए पहाड़ी के पास बसे लोगों में दहशत का माहौल है। क्षेत्र में तेंदुए व भालू जैसे वन्य प्राणियों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है।

पिछले कुछ दिनों गढ़िया पहाड़ में भी तेंदुए नजर आने लगा है। शहर के राजापारा वार्ड में पहाड़ पर चढ़ने के लिए बनी सीढ़ियों पर तेंदुए को बैठे वार्डवासियों ने देखा। जिसके बाद से तेंदुए के बस्ती तक आने का अंदेशा बना हुआ है।

दूसरे तेंदुए ने छह बकरियों को बनाया शिकार

कांकेर जिला मुख्यालय से 30 किमी दूर पीढ़ापाल इलाके में एक अन्य तेंदुए ने आतंक मचा रखा है। 10 अप्रैल की रात 12 बजे गांव के ही महेश नरेटी और विष्णु पिता मणिराम के छह बकरियों को मार डाला। पीढ़ापाल से लगे ग्राम मुजालगोदी में किसान महेश नरेटी और विष्णु बकरी पालन का भी काम करते हैं।

घर से लगे ही एक छोटे से कमरे में बकरियां पाल रखी है। रात 11 बजे तेंदुए पहले मकान के छप्पर में चढ़ा और जिस कमरे में बकरियां थी उसके बांस बल्ली और खपरों को हटाकर घुस आया। कमरे में ही पांच वयस्क बकरियों को मारकर खून पी गया और एक मेमने को अपने साथ लेकर जंगल भाग गया।

इस तरह इन दोनों किसानों की छह बकरियों को तेंदुए ने घर में घुसकर मार डाला। इस घटना से गांव वालों में दहशत फैल गया है। वन विभाग के डिप्टी रेंजर को सूचना दी गई उसके बाद चिकित्सकों का दल पहुंचा।

सूअर के हमले महिला की मौत

धमतरी जिले में जंगली सूअर के हमले से बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। मगरलोड क्षेत्र के ग्राम सरगी की निवासी सोहिल्या बाई यादव 65 वर्ष 11 अप्रैल को दोपहर में बकरी चराने पवई जलाशय के पास के जंगल में गई थी। जंगली सूअर ने वृद्धा पर हमला कर दिया। वृद्धा की मौत हो गई।
 

Source:Agency