Breaking News

Today Click 1923

Total Click 3735686

Date 21-07-18

घातक नर्व एजेंट के नए मामले की जांच में जुटी ब्रिटेन की पुलिस

By Mantralayanews :06-07-2018 07:10


लंदनः ब्रिटेन की पुलिस आज इस बात की जांच में जुट गई कि यहां का एक दंपति उसी नर्व एजेंट के संपर्क में कैसे आया जिसका इस्तेमाल इस साल मार्च में रूस के एक पूर्व डबल एजेंट और उसकी बेटी पर भी किया गया था। डाउन स्टरगेस (44) और चार्ली रोवले (45) शनिवार को सालिसबरी शहर के करीब अमेसबरी गांव में बीमार हालत में मिले थे। सालिसबरी में ही चार मार्च को पूर्व जासूस सर्गेई स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया एक बेंच पर बेसुध पड़े मिले थे।  इस घटना के बाद से ब्रिटेन और रूस के कूटनीतिक संबंधों में खटास पैदा हो गई थी।       

स्कॉटलैंड यार्ड के सबसे वरिष्ठ आतंकवाद रोधी अधिकारी नील बसु ने पुष्टि की कि ब्रिटेन के पोर्टन डाउन प्रयोगशाला में रसायनिक पदार्थों के विशेषज्ञ वैज्ञानिकों ने साबित किया है कि नर्व एजेंट नोविचोक के कारण वे बेहोश हुए। मेट्रोपोलिटन पुलिस के सहायक आयुक्त बासु ने एक बयान में कहा कि इन नमूनों के विस्तृत विश्लेषण के बाद , हम पुष्टि कर सकते हैं कि महिला और पुरुष नर्व एजेंट नोविचोक के संपर्क में आये जिसकी पहचान उसी नर्व एजेंट के रूप में हुई है जिसका यूलिया और स्क्रिपल पर प्रयोग किया गया।

भारतीय मूल के इस अधिकारी ने कहा कि जांच दल की प्राथमिकता अब यह पता करने की है कि ये दोनों लोग इस नर्व एजेंट के संपर्क में कैसे आये। आतंकवाद रोधी पुलिस द्वारा घटना की जांच आगे बढ़ाने के साथ ही गृहमंत्री साजिद जाविद आज कैबिनेट की एक आपात बैठक की अध्यक्षता करने वाले वाले हैं। बसु ने लोगों से अपील की है कि वह किसी भी अज्ञात वस्तु को छूने से बचें। उन्होंने कहा कि इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि चार्ली रोली और डॉन स्टर्गेस को किसी भी तरह से निशाना बनाया गया ’’ है।
 

Source:Agency