Breaking News

Today Click 286

Total Click 3959220

Date 24-10-18

तो इसलिए कपल्स हनीमून के लिए देहरादून जाना पंसद करते हैं

By Mantralayanews :06-10-2018 08:46


शादी के बाद हनीमून पर किसी अच्छी जगह जाना तो हर कपल का सपना होता है. कुछ लोग हनीमून के लिए विदेश घूमने जाते हैं लेकिन कुछ लोग हमारे देश में ही घूमने जाने के लिए नई-नई जगह ढूंढते हैं. अगर बात करे भारत की ही बेस्ट टूरिस्ट प्लेस की तो लोग ज्यादातर देहरादून जाना पसंद करते हैं. दरअसल देहरादून में कई ऐसी जगह है जहां जाकर आप भी अपने हॉलिडे का आनंद उठा सकते यहीं. आप भी जब देहरादून जाए तो इन जगहों को देखना बिलकुल भी ना भूले-

आसन बैराज

आसन झील उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश को जोड़ती है. ये झील देहरादून से 28 किलो मीटर की दूरी पर स्थित है जो आसन बैराज साइबेरियन बर्ड के लिए सबसे मशहूर स्पॉट है. यहाँ इन विदेशी मेहमानो को देखने के लिए ही लोगों की भीड़ लगी रहती हैं.

बुद्धा टेंपल

देहरादून की आईएसबीटी (इंटर स्टेट बस टर्मीनल) से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर तिब्बती समुदाय का ये धार्मिक स्थल स्थित है. बुद्धा टेंपल को बुद्धा मॉनेस्ट्री या बुद्धा गॉर्डन के नाम से जाना जाता है. यहाँ के खूबसूरत और अद्भुत दृश्य ही टूरिस्ट को आकर्षित करते हैं.

एफआरआई

ये उत्तराखंड का एकमात्र सबसे पूरा इंस्टिट्यूट है जो देहरादून क्लॉक टॉवर से महज सात किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. कहा जाता है कि एफआरआई कुल 450 हेक्टेअर में फैला है जिसमें सात म्यूजियम हैं.

गुच्चुपानी या रावर्स केव

ये जगह देहरादून के कैंट एरिया से कुछ ही दूरी पर पहाड़ों के बीच में बसी है जहां पर आपको प्रकृति की खूबसूरती देखने को मिलेगी. यहाँ सभी लोग पिकनिक मनाने आते हैं. यहाँ पहाड़ो के बीच में से झरना गिरता है जो सभी को अपनी ओर आकर्षित करता है.

मालसी डीयर

पार्क ये पार्क मसूरी मार्ग पर स्थित है और इसे मिनी जू के नाम से भी जाना जाता है. इस पार्क में हिरण, चीतल, मोर तेंदूआ जैसे और भी कई जानवर है.

सहस्त्रधारा

इस जगह की अपनी एक अलग ही पहचान है. यहाँ पर छोटे-छोटे झरनो के अलावा पहाड़ के ऊपर एक मंदिर भी मौजूद है और दूसरी ओर बुद्धा मॉनेस्ट्री टूरिस्ट है जो सभी को खूब आकर्षित करता है. सहस्त्रधारा अपने सल्फर वाटर के कारण मशहूर है. कहा जाता है कि सल्फर वाटर में नहाने से सभी तरह की त्वचा सम्बन्धी बीमारियां दूर हो जाती है.

टपकेश्वर मंदिर

ये यहाँ की लोकप्रिय गुफा है जो शहर के बस स्टैंड से 5.5 किमी दूर स्थित एक तमसा नदी के तट पर स्थित है. इस गुफा में भोलेनाथ की शिवलिंग है और गुफा की छत से पानी टपकता है जो सीधे शिवलिंग पर गिरता है.

Source:Agency