Breaking News

Today Click 234

Total Click 4002684

Date 19-11-18

20 करोड़ का घूस लेने के आरोपी बीजेपी के पूर्व मंत्री ‘गायब’

By Mantralayanews :08-11-2018 07:53


बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच (सीसीबी) ने पूर्व बीजेपी मंत्री और खनन कारोबारी जी जनार्दन रेड्डी के खिलाफ तलाशी अभियान छेड़ दिया है। रेड्डी का संबंध धोखाधड़ी के एक मामले से है। उन पर आरोप है कि उन्होंने एक निजी कंपनी एमबियंट प्राइवेट लिमिटेड की मदद करने के लिए सोने के रूप में 20 करोड़ रुपये की घूस ली। सीसीबी पुलिस ने रेड्डी से संबंधित बेंगलुरु की एक प्रॉपर्टी में तलाशी अभियान चलाया। सीनियर पुलिस अफसरों ने बताया कि पूर्व मंत्री छिप गए हैं। बता दें कि रेड्डी पर कर्नाटक के बेल्लारी में गैरकानूनी ढंग से लोहे के अयस्क के खनन का कारोबार चलाने का भी आरोप है। सीबीआई इस मामले में उनके खिलाफ केस चला रही है।

बेंगुरु पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने बुधवार को बताया कि सीसीबी पुलिस को रेड्डी के बारे में उस वक्त पता चला जब वह वित्तीय सेवाएं देने वाली कंपनी एमबिएंट के खिलाफ धोखाधड़ी के एक मामले की जांच कर रही थी। इस कंपनी पर 15 हजार लोगों को पॉन्जी स्कीम्स के जरिए 600 करोड़ रुपये का चूना लगाने का आरोप है। कंपनी ने अपने निवेशकों से 40 प्रतिशत तक का रिटर्न देने का वायदा किया था। सीसीबी ने पाया कि एमबिएंट के संस्थापक सैयद अहमद फरीद ने इस साल बेंगलुरु पुलिस की ओर से मामले दर्ज किए जाने के बाद ईडी की जांच से बचने के लिए पूर्व मंत्री से संपर्क किया था। पुलिस का कहना है कि रेड्डी ने मदद के बदले सोने के रूप में 20 करोड़ रुपये की मांग की।
सीसीबी के मुताबिक, इसके बाद 20 करोड़ रुपये कीमत का सोना कथित तौर पर फरीद ने बेल्लारी के राजमहल फैंसी जूलर्स को ट्रांसफर किया। यह दुकान रेड्डी और उनके समूह से संबंधित है। बाद में जूलर ने कथित तौर पर इस सोने को रेड्डी को सौंप दिया। बता दें कि इससे पहले, सीसीबी ने बेल्लारी के जूलर रमेश को गिरफ्तार करके पूछताछ की थी। उधर, पुलिस ने रेड्डी के अलावा उनके नजदीकी अली खान की तलाश तेज कर दी है। खान पर आरोप है कि उन्होंने 20 करोड़ रुपये की डील के लिए बातचीत की।

Source:Agency