Breaking News

Today Click 973

Total Click 4044797

Date 18-12-18

हाथियों के दल के मुखिया को लगाया सैटेलाइट कॉलर, मिलेगी ऐसी जानकारी

By Mantralayanews :30-11-2018 08:40


अंबिकापुर । सरगुजा वनवृत्त में सर्वाधिक आक्रामक 16 सदस्यीय बांकी दल के मुखिया दंतैल हाथी को गुरुवार की दोपहर सूरजपुर जिले के धूमाडांड़ जंगल में ट्रेंक्यूलाइज कर सटेलाइट कॉलर लगाने का ऑपरेशन सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया। जिस दौरान दंतैल हाथी को डार्ट किया गया, उस समय वह महान नदी की ओर जा रहा था। डार्ट लगने के कुछ देर बाद ही हाथी गिर गया। बड़े आराम से वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों की टीम ने उसे सैटेलाइट कॉलर पहनाया। रिवाइवल डोज देने के कुछ मिनटों के बाद ही हाथी उठ खड़ा हुआ।

सूरजपुर जिले के प्रतापपुर व सूरजपुर वन परिक्षेत्र में लंबे समय से जमे बांकी दल के 16 हाथियों द्वारा लगातार फसलों को नुकसान पहुंचाने के साथ मकानों में भी तोड़फोड़ की जा रही थी। दल के मुखिया दंतैल हाथी पर सैटेलाइट कालरिंग के लिए पिछले चार दिनों से वन्य जीव संस्थान देहरादून के वैज्ञानिकों के साथ विशेषज्ञ और स्थानीय वन अधिकारी-कर्मचारी लगे हुए थे।

पिछले तीन दिनों से निराशा हाथ लग रही थी, क्योंकि सभी 16 हाथी घनी झाड़ियों के बीच झुंड से अलग हो ही नहीं रहे थे। गुरूवार को फिर एक बार ऑपरेशन चलाया गया। अंबिकापुर से पूरे साजो-सामान के साथ टीम सुबह नौ बजे ही सूरजपुर वन परिक्षेत्र के धूमाडांड़ के लिए रवाना हो गई थी।

वन्य जीव संस्थान देहरादून से आए वैज्ञानिकों के साथ तमिलनाडु के ट्रैकर जंगल में घुसकर हाथियों की गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे। शाम लगभग चार बजे दल का मुखिया दंतैल हाथी जंगल के रास्ते महान नदी की ओर बढ़ा, उसी दौरान विशेषज्ञों ने अचूक निशाना लगाया। ट्रेंक्यूलाइज गन से डार्ट लगते ही विशालकाय हाथी अर्द्घचेतन अवस्था में आ गया। थोड़ी देर बाद ही वह जमीन पर गिर गया।
 

Source:Agency