Breaking News

Today Click 1008

Total Click 4044832

Date 18-12-18

CG और तेलंगाना में नदी की तेज धार के बीच ऐसे हो रही लकड़ियों की तस्करी

By Mantralayanews :03-12-2018 07:44


बीजापुर। बस्तर के जंगल से बेशकीमती इमारती लकड़ी सागौन की लगातार तस्करी जारी है। यहां से तेलंगाना तक लठ्ठों को ले जाने के लिए तस्कर नदी का सहारा ले रहे हैं। तेज बहाव वाली इंद्रावती नदी में तस्कर लठ्ठों को सीमा पार तक ले जा रहे हैं। सोमवार को बीजापुर जिले में वन विभाग की टीम ने कार्रवाई करते हुए कुल 86 नग सागौन के गोले जब्त किए। इनकी अनुमानित कीमत 8 लाख रुपए बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि मौके से तस्कर फरार हो गए।

सामान्य वन मण्डल और इंद्रावती प्रोजेक्ट कर्मचारियों को जानकारी मिली कि इंद्रावती नदी के सहारे तस्कर बड़ी मात्रा में सागौन के लठ्ठों का परिवहन कर रहे हैं। भोपाल पटनम परिक्षेत्र तिमेड घाट के पास पहुंची टीम की भनक लगते ही तस्कर वहां से भाग खड़े हुए। टीम ने मौके से लठ्ठे जब्त किए। इस कार्रवाई में तीन कर्मचारियों को चोटें भी आई हैं। वन अमला अब तस्करों की तलाश में जुटा हुआ है।

गौरतलब है कि बीजापुर, दंतेवाड़ा, बारसूर इलाके में कई वर्षों से इस तरह से इमारती लकड़ियों की तस्करी हो रही है। तस्कर इन लठ्ठों को काटकर नदी की धार के साथ बहा देते हैं और राफ्ट नुमा छोटी नाव का सहारा लेकर इसे तेलंगाना सीमा के पार तक ले जाते हैं। समय-समय पर वन विभाग की टीम कार्रवाई भी करती है, लेकिन इस पर लगाम नहीं लग पा रही है। तस्करों की वजह से इमारती लकड़ियों वाला घना जंगली इलाका अब धीरे-धीरे उजाड़ हो रहा है।
 

Source:Agency