Breaking News

Today Click 1077

Total Click 4037879

Date 12-12-18

गाड़ी सहित कुएं में गिरा, रातभर लगाता रहा आवाज, सुबह मिली मदद

By Mantralayanews :06-12-2018 08:09


कुचड़ौद (मंदसौर) । चाहे किसी कठिन से कठिन को काम करना हो या जिदंगी की जंग जीतना हो, हौंसला और हिम्मत है तो ही सब कुछ संभव है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया अरनियागुर्जर के युवक ने। वह 11 घंटे तक संघर्ष कर जिदंगी की जंग जीत गया। युवक पिकअप चालक है। मंगलवार रात में वह पिकअप से अपने गांव जा रहा था तभी झागरिया रोड पर गौशाला के समीप एक बिना मुंडेर के कुएं में उसकी पिकअप गिर गई।

पिकअप पानी में जाकर धीरे-धीरे डूबने लगी तभी चालक ने लात और हाथ मारकर आगे का कांच तोड़ दिया और फिर उसी रास्ते से निकलकर पिकअप की छत पर पहुंच गया। गनीमत यह रही की कुएं में पानी अधिक होने के बावजूद पिकअप पूरी तरह से डूब गई और छत के समीप पानी पहुंचता उससे पहले किसी चट्टान से पिकअप रुक गई। युवक अपनी जान बचाने के लिए अंधेरे और पानी से भरे कुएं से रातभर आवाज लगाता रहा, लेकिन उसकी आवाज जब तक लोगों के कानों तक सुबह पहुंची। करीब 11 बजे घंटे बाद वह सुरक्षित निकला।

मिली जानकारी के अनुसार ग्राम अरनियागुर्जर निवासी विष्णुलाल साहू की 30 अपनी पिकअप में मंगलवार को ताल से भैंस भरकर ग्राम झांगरिया गया था। भैंस को झागरिया में उतारने के बाद वह खाली पिकअप से अपने गांव लौट रहा था। रात करीब 8 बजे ग्राम ग्राम झागरिया से करीब एक कि लोमीटर दूर ही पहुंचा था तभी पिकअप की स्टेयरिंग फेल हो गई, असंतुलित होकर पिकअप सड़क से उतरकर गोशाला के समीप सड़क के कि नारे ही स्थित भुवानी तेली के कुएं में गिर गई। कुएं में पानी अधिक होने से पिकअप लगभग पूरी पानी के अंदर समा गई। इसी दौरान चालक विष्णुलाल ने अपनी जान बचाने के लिए हिम्मत की।

पिकअप पानी में डूबती उससे पहले उसने हाथ व पैर से चोट कर कांच को तोड़ दिया और वहां से निकलकर पिकअप की छत पर आकर बैठ गया। कि स्मत ने भी साथ दिया और पिकअप कि सी पत्थर से रुक गई। इसके बाद विष्णुलाल साहू मदद के लिए जोर-जोर से आवाज लगाता रहा, रातभर उसने आवाज लगाई। ठंड की रात में पानी से भीगने के बावजूद वह चिल्लाता रहा।

सुबह करीब 6.30 बजे सड़क से जा रहे राहगीरों ने उसकी आवाज सुनी। कुएं के पास जाकर देखा। अंदर से विष्णुलाल बोला मुझे आपकी मदद चाहिए। उसने मददगार लोगों को अपने भाई के नम्बर दिए। जानकारी मिलने के बाद भाई सुरेश साहू, मांगीलाल साहू वहां पहुंचे और विष्णुलाल को कुएं से बाहर निकाला। बाद में क्रेन की सहायता से पिकअप को बाहर निकाला गया। कांच तोड़ने के दौरान युवक के हाथ में चोट भी लगी थी। जानकारी के अनुसार कुएं पर मुंडेर नहीं थी, सड़क की साइट दीवाल बनी थी, पिकअप की टक्कर लगने से दीवार भी कुएं में गिर गई।
 

Source:Agency